logo

शहीद बीएसएफ जवान को भीगी आंखों से दी गयी आखिरी विदाई

पैगाम ब्यूरोः पश्चिम बंगाल के हावड़ा का डबसन रोड बृहस्पतीवार सवेरे से तिरंगे से ढक गया था. बड़ी तादाद में बीएसएफ और पुलिस के जवान तैनात थे. वीर शहीद जवान को आखिरी बार देखने के लिए लोगों की भी भीड़ जमा था. आखिरकार सवेरे 11 बजे बीएसएफ के शहीद जवान विनय प्रसाद का पार्थिव शरीर उनके घर पहुंचा. वहां मौजूद भीड़ 'वीर शहीद अमर रहे' के नारे लगा रही थी. 

बता दें कि मंगलवार 15 जनवरी को जम्मू में भारत-पाकिस्तान सीमा पर तैनात बीएसएफ के जवान विनय प्रसाद (35) पाकिस्तानी सेना की फायरिंग में शहीद हो गये थे. अस्पताल ले जाते वक्त उनकी मौत हो गयी थी. जम्मू से उनका पार्थिव शरीर पहले दिल्ली और उसके बाद  दक्षिणेश्वर स्थित बीएसएफ के क्षेत्रीय मुख्यालय लाया गया. जहां से आज सवेरे 11 बजे उनकी लाश हावड़ा स्थित उनके घर लायी गयी. जिस गाड़ी में शहीद की लाश लायी गयी, उसके साथ बाईक पर सवार सैकड़ों लोग चल रहे थे.

बीएसएफ के इस शहीद को आखिरी बार देखने के लिए डबसन रोड पर बड़ी तादाद में लोगों की भीड़ जमा हुई थी. पूरे इलाके में हर तरफ तिरंगा नजर आ रहा था. लोग शहीद के सम्मान में नारे लगा रहे थे. भीड़ को नियंत्रित करने में बीएसएफ और पुलिस के जवानों के पसीने छूट गये थे. 

सवेरे राज्य के मंत्री अरुप राय शहीद जवान के घर आये और उन्होंने उनके परिवार वालों से मिल कर श्रद्धा व्यक्त की. दक्षिणेश्वर स्थित बीएसएफ के स्थानीय मुख्यालय में शहीद को आखिरी विदाई देने राज्य के एक और मंत्री लक्ष्मीरतन शुक्ला भी पहुंचे थे. हावड़ा के बांधाघाट शमशान में पूरे राष्ट्रीय मर्यादा के साथ शहीद विनय प्रसाद का अंतिम संस्कार किया गया. 


More News
Style
मनोरंजन

सलमान के बॉडीगार्ड शेरा ने थामा शिवसेना का दामन

पैगाम ब्यूरोः महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से ठीक पहले बॉलीवुड के सुपरस्टार सलमान खान के बॉडीगार्ड गुरमीत सिंह

View News