जोकर है अनुपम खेर, उन्हें गंभीरता से न लें: नसीरुद्दीन शाह

0
4114

पैगाम ब्यूरोः देश के चंद बेहतरीन अदाकारों में से एक नसीरुद्दीन शाह बॉलीवुड के उन चंद गिने-चुने कलाकारों में से एक हैं, जो सम-सामायिक मुद्दों पर खुल कर अपनी बात रखते हैं. उन्होंने जेएनयू में हुई हिंसा के बाद जेएनयू कैंपस जाने के चलते लोगों की आलोचना का शिकार बनीं बॉलीवुड स्टार दीपिका पादुकोण की तारीफ करते हुए कहा कि उन्हें दीपिका जैसी लड़की की हिम्मत की तारीफ करनी चाहिए, जो टॉप पर होने के बावजूद इस तरह के कदम उठाती है. उन्होंने नागरिकता कानून और जेएनयू मुद्दे पर बॉलीवुड के सुपरस्टार्स की खामोशी पर भी निशाना साधा है.
नसीरुद्दीन शाह ने नागरिकता कानून का विरोध कर रहे फिल्मी हस्तियों के जज्बे की तारीफ करते हुए कहा कि इन लोगों में हिम्मत और हारने के लिए कम है. यह समझ में आता है कि फिल्म इंडस्ट्री के नामचीन कलाकार इस बारे में क्यों नहीं बोल रहे हैं. हालांकि, यह समझ में नहीं आता है कि मुंह खोलने पर उन्हें क्या खोना पड़ेगा? क्या वह तुम्हें मार डालेगा? आपको दीपिका जैसी लड़की की हिम्मत की तारीफ करनी चाहिए, जो टॉप पर है और फिर भी इस पर एक कदम उठाती है.
हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में इन दिनों देशभक्ति की भावनाओं पर फिल्म बनाने की एक रेस शुरू हुई है. इस बारे में इस दिग्गज अभिनेता ने कहा कि फिल्म उद्योग हमेशा से सत्ता के साथ खड़ा रहा है. उन्होंने कहा कि मुझे हैरत है कि इन फिल्म निर्माताओं में कितना विश्वास है, जो इतिहास को फिर से लिखने में मदद कर रहे हैं.
नसीरुद्दीन शाह ने बॉलीवुड के एक और बेहतरीन अभिनेता अनुपम खेर के बारे में भी खुल कर बातें की, जिन्होंने नागरिकता कानून के खिलाफ हुए प्रदर्शन के दौरान सोशल मीडिया पर प्रदर्शनकारियों के खिलाफ जम कर प्रतिक्रिया दी थी.
अनुपम खेर पर निशाना साधते हुए नसीर ने कहा कि अनुपम खेर को गंभीरता से लेने की जरूरत नहीं है. वह एक जोकर है. उन्होंने कहा कि जो लोग एफटीटीआई और एनएसडी में अनुपम खेर के साथ थे, वह उनकी चमचागिरी की आदत के बारे में आपको बता सकते हैं. यह उनके खून मे्ं है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here