रेल मंत्रालय का कारनामाः कोलकाता में मेट्रो रेल के उद्घाटन कार्यक्रम में नहीं किया ममता बनर्जी को आमंत्रित

Must Read

भीम आर्मी के भारत बंद का देश के कई राज्यों में पड़ा व्यापक असर

पैगाम ब्यूरोः आरक्षण, सीएए, एनआरसी और एनपीआर के मुद्दे पर आज भीम आर्मी ने भारत बंद मनाया, जिसका देश...

सीएए के प्रदर्शनकारियों पर फिर बरसी यूपी पुलिस की लाठियां

पैगाम ब्यूरोः नागरिकता कानून (सीएए) का विरोध करने वालों पर यूपी पुलिस ने फिर से लाठियां बरसायी हैं. उत्तर...

दिल्ली में मिली शर्मनाक हार के कारण तलाश कर रही है बीजेपी

पैगाम ब्यूरोः दिल्ली में फिर से अरविंद केजरीवाल की सरकार बन चुकी है. बीजेपी का दिल्ली का वनवास खत्म...

पैगाम ब्यूरोः कोलकाता में दुनिया की सबसे सस्ती मेट्रो सेवा शुरू हो गयी है. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने गुरुवार को ईस्ट-वेस्ट मेट्रो का उद्घाटन किया. 14 फरवरी से इसे आम जनता के लिए खोल दिया जायेगा. लेकिन रेल मंत्रालय ने इस कार्यक्रम से पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को दूर रखा. उन्हें मेट्रो रेल के उदघाटन कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आमंत्रित ही नहीं किया गया था. कार्यक्रम के लिए जो निमंत्रण कार्ड जारी किये गये थे, उससे ममता बनर्जी का नाम गायब था.
मुख्यमंत्री को आमंत्रित नहीं किये जाने से तृणमूल कांग्रेस भड़क उठी है. पार्टी ने इस हरकत पर कड़ा विरोध जताया है. आज कोलकाता में ईस्ट-वेस्ट मेट्रो कॉरिडोर के फेज-1 का रेल मंत्री पीयूष गोयल ने उदघाटन किया. मेट्रो के उद्घाटन के लिए जो निमंत्रण पत्र जारी किया गया था, उसमें उद्घाटनकर्ता के रूप में पीयूष गोयल का नाम लिखा गया था. वहीं एक और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो का नाम भी अतिथि के रुप में शामिल था. बारासात से तृणमूल सांसद काकोली घोष दस्तीदार, विधाननगर नगर निगम की मेयर कृष्णा चक्रवर्ती और राज्य के दमकल मंत्री सुजीत बोस का नाम भी इस आमंत्रण पत्र में शामिल है. लेकिन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को आमंत्रित नहीं किये जाने से नाराज तृणमूल के इन सभी नेताओं ने मेट्रो रेल के उदघाटन समारोह का बहिष्कार कर दिया और कोई भी शामिल नहीं हुआ.
सांसद काकोली घोष दस्तीदार ने कहा कि जब ममता बनर्जी 2009-2011 में रेल मंत्री थीं, तब ईस्ट-वेस्ट मेट्रो कॉरीडोर उन्हीं का विचार था. उन्होंने ही रेलवे बजट में इसके लिए धन आवंटित किया था. और अब जब परियोजना का उद्घाटन होने जा रहा है, तो उन्हें आमंत्रित नहीं किया गया. यह बंगाल की जनता का अपमान है.
बता दें कि ईस्ट-वेस्ट मेट्रो दुनिया की सबसे सस्ती मेट्रो सेवा होगी, जिसमें एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन तक का किराया सिर्फ 5 रुपये होगा. इसमें कई तरह की यात्री सुविधाएं भी होंगी. इसमें प्लेटफॉर्म स्क्रीन डोर और डिटेक्शन सिस्टम जैसी आधुनिक सुविधाएं होंगी. फिलहाल यह मेट्रो सिर्फ 6 किलोमीटर के दायरे में ही चलेगी. मेट्रो रेलवे का कहना है कि जल्दी ही कोलकाता की जनता के लिए यह सेवा बढ़कर 12 किलोमीटर तक कर दी जायेगी. दूसरे फेज का निर्माण पूरा होने के बाद यह मेट्रो सेवा सॉल्टलेक के सेक्टर 5 से हावड़ा मैदान के बीच 15 किलोमीटर का सफर तय करेगी. इस दौरान ट्रेन गंगा के नीचे से गुजरेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

भीम आर्मी के भारत बंद का देश के कई राज्यों में पड़ा व्यापक असर

पैगाम ब्यूरोः आरक्षण, सीएए, एनआरसी और एनपीआर के मुद्दे पर आज भीम आर्मी ने भारत बंद मनाया, जिसका देश...

सीएए के प्रदर्शनकारियों पर फिर बरसी यूपी पुलिस की लाठियां

पैगाम ब्यूरोः नागरिकता कानून (सीएए) का विरोध करने वालों पर यूपी पुलिस ने फिर से लाठियां बरसायी हैं. उत्तर प्रदेश के अलगीढ़ में नागरिकता...

दिल्ली में मिली शर्मनाक हार के कारण तलाश कर रही है बीजेपी

पैगाम ब्यूरोः दिल्ली में फिर से अरविंद केजरीवाल की सरकार बन चुकी है. बीजेपी का दिल्ली का वनवास खत्म करने का सपना, सपना ही...

सोनभद्र से सोना निकलने की अफवाह पर शशि थरुर ने किया कटाक्षः कहा, सरकार बंद करे टन टना टन

पैगाम ब्यूरोः कांग्रेस के सीनियर नेता शशि थरुर ने उत्तर प्रदेश के सोनभद्र से हजारों टन सोना मिलने की बात अफवाह साबित होने पर...

प्रियंका ने लगाया आरोपः बीजेपी सरकार ने मोदी जी के दोस्तों के 8 लाख करोड़ कर्ज माफ कर दिये

पैगाम ब्यूरोः कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने बीजेपी सरकार पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पूंजीपति दोस्तों को मदद करने का आरोप लगाया है. प्रिंयका...

More Articles Like This