योगी पर हो सकता है आतंकी हमला

Must Read

कहां है कपिल मिश्रा, कब होगी गिरफ्तारी

पैगाम ब्यूरोः दिल्ली में हो रहे सांप्रदायिक दंगे में अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है. सरकार...

दिल्ली की घटना से देश भर में दहशत, पश्चिम बंगाल और मुंबई में रेड अलर्ट जारी

पैगाम ब्यूरोः नागरिकता कानून (सीएए) के समर्थन के मुद्दे पर शुरू हुए प्रदर्शन ने दिल्ली को आग के हवाले...

दिल्ली पुलिस पूरी तरह नाकामः अब तक 9 लोगों की मौत, लेकिन सरकार ने सेना बुलाने से किया इनकार

पैगाम ब्यूरोः नागरिकता कानून के समर्थन के नाम पर दिल्ली में दंगे की आग भड़कती ही जा रही है....

पैगाम ब्यूरोः उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति बेहद खराब है. अदालतें तक सुरक्षित नहीं हैं. वकीलों पर बमों से हमले हो रहे हैं. महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामले में तो उत्तर प्रदेश नये-नये रिकॉर्ड बना रहा है, लेकिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनकी पुलिस अपराधियों का दमन करने के बजाय सीएए के खिलाफ प्रदर्शन करने वालों पर झूठे मुकदमे लादने में व्यस्त है. मासूम बच्चों की जान बचाने वाले डॉ. कफील खान पर भड़काऊ भाषण देने का आरोप लगा कर उनपर रासूका लगाने का काम किया जा रहा है. हालांकि भड़काऊ भाषण देने में योगी आदित्यनाथ सबसे आगे हैं. दिल्ली विधानसभा चुनाव के प्रचार अभियान के दौरान दिये गये उनके भाषणों को दुनिया अभी भूली भी नहीं है. अब उत्तर प्रदेश में एक नया शोशा छोड़ा गया है. कहा जा रहा है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर आतंकी हमले का खतरा है. इसे लेकर अलर्ट भी जारी किया गया है.
मजे की बात यह है कि यह खबर भी आ चुकी है कि योगी आदित्यनाथ पर आतंकी पत्रकार के भेष में हमला कर सकते हैं. इसके मद्देनजर पुलिस अब पत्रकारों के लिए नया पहचान पत्र जारी करने जा रही है.
मुख्यमंत्री की सुरक्षा के नाम पर उन सभी पत्रकारों की जांच की जा रही है जो गोरखपुर में मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में शामिल होते हैं. जांच पूरी होने के बाद उन्हें पहचान पत्र (आई कार्ड) दिया जायेगा. गोरखपुर के पुलिस उपाधीक्षक ने कहा कि इस तरह की खुफिया सूचना पुलिस को मिली है. आतंकी पत्रकार के भेष में मुख्यमंत्री पर हमला कर सकते हैं. आतंकी हमले के खतरे को देखते हुए पत्रकारों को कार्ड दिया जा रहा है.
बता दें कि 2017 में मुख्यमंत्री बनने के साथ ही योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी. उन्हें जेड प्लस सुरक्षा दी जाती है. उनकी सुरक्षा पर हर वक्त एनएसजी के 36 कमांडो तैनात रहते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

कहां है कपिल मिश्रा, कब होगी गिरफ्तारी

पैगाम ब्यूरोः दिल्ली में हो रहे सांप्रदायिक दंगे में अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है. सरकार...

दिल्ली की घटना से देश भर में दहशत, पश्चिम बंगाल और मुंबई में रेड अलर्ट जारी

पैगाम ब्यूरोः नागरिकता कानून (सीएए) के समर्थन के मुद्दे पर शुरू हुए प्रदर्शन ने दिल्ली को आग के हवाले कर दिया है. पूरा उत्तर...

दिल्ली पुलिस पूरी तरह नाकामः अब तक 9 लोगों की मौत, लेकिन सरकार ने सेना बुलाने से किया इनकार

पैगाम ब्यूरोः नागरिकता कानून के समर्थन के नाम पर दिल्ली में दंगे की आग भड़कती ही जा रही है. केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार...

बिहार में नहीं लागू होगा एनआरसी, विधानसभा में प्रस्ताव पारित

पैगाम ब्यूरोः बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहले ही यह एलान कर चुके थे कि बिहार में एनआरसी लागू नहीं होगा. अपने वादे को...

ओवैसी का आरोपः सरकार के समर्थन से दिल्ली में हुए दंगे

पैगाम ब्यूरोः एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दनी ओवैसी ने दिल्ली दंगों पर एक बड़ा आरोप लगाया है. उन्होंने दावा किया है कि दिल्ली में जो कुछ...

More Articles Like This