राजस्थान, पंजाब और ओडिशा के बाद अब बंगाल भी लॉकडाउन

Must Read

अब 12 अप्रैल को होगा नया ड्रामा, 5 मिनट खड़े हो कर पीएम को सम्मान दिये जाने की तैयारी

पैगाम ब्यूरोः कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ रहे चिकित्सा कर्मियों को सम्मान देने के लिए 22 मार्च को ताली...

तबलीगी जमात के लोग दूसरों के साथ नहीं कर सकते बदसलूकीः देखें वीडियो

पैगाम ब्यूरोः मीडिया का एक वर्ग और भगवा संगठन तबलीगी जमात को शैतान की जमात के रुप में पेश...

किसानों की जीविका खतरे में, फसलों की कटाई के लिए लॉकडाउन में ढील दे सरकारः राहुल गांधी

पैगाम ब्यूरोः कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने फसलों की कटाई को लिए लॉकडाउन में ढील देने की...

पैगाम ब्यूरोः जो खतरा मंडरा रहा था और जिसकी आशंका व्यक्त की जा रही थी. आखिरकार वही हुआ. पश्चिम बंगाल सरकार ने कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर पूरे राज्य को लॉकडाउन कर दिया है. पश्चिम बंगाल कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन होने वाला देश का चौथा राज्य है. इससे पहले राजस्थान, पंजाब और ओडिशा सरकार ने अपने-अपने यहां लॉकडाउन का एलान किया है. सोमवार से 27 मार्च तक पूरे पश्चिम बंगाल में लॉकडाउन अर्थात सबकुछ बंद रहेगा.

रविवार को जब प्रधानमंत्री की घोषणा के तहत देश भर में जनता कर्फ्यू चल रहा था, तभी पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार ने यह एलान किया. इस संबंध में राज्य सरकार की तरफ से एक निर्देशिका जारी की गयी है. जिसमें कहा गया है कि सोमवार शाम चार बजे से 27 मार्च रात 12 बजे तक पश्चिम बंगाल के सभी 23 जिलों में लॉकडाउन रहेगा.

लॉकडाउन के दौरान सभी प्रकार के सरकारी ट्रांस्पोर्ट के साथ-साथ प्राइवेट बस, टैक्सी, ऑटो सभी बंद कर दिये जायेंगे. सिर्फ अस्पताल, एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड जाने वाली गाड़ियों और खाद्य व जरुरी सामान ढोने वाले वाहनों को इस दौरान चलने की इजाजत दी जायेगी.

निर्देशिका के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान सभी दुकानें, दफ्तर, कारखाने गोदाम बंद रहेंगे. इस दौरान लोगों को अपने घरों में ही रहने की सलाह दी गयी है. उनसे अनुरोध किया गया है कि वो सिर्फ बुनियादी जरुरतों के लिए ही घरों से बाहर निकलें.

लॉकडाउन से पुलिस, अदालत, जेल, स्वास्थ्य परिसेवा, सशत्र बलों, सेना, बिजली, जल आपूर्ति, सफाई परिसेवा, दमकल, सिविल डिफेंस, इमरजेंसी सर्विस, आईटी, टेलिकॉम, इंटरनेट, बैंक, एटीएम, सब्जी, फल, मांस, मछली, ब्रेड, दूध, राशन विक्रेता, पेट्रोल पंप, एलपीजी गैस, तेल एजेंसी, दवा दुकान और मीडिया को छूट दी गयी है.

लॉकडाउन के दौरान किसी जगह पर एक साथ 7 लोगों के इकट्ठा होने पर पाबंदी लगा दी गयी है. अगर ऐसा हुआ तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी. राज्य प्रशासन ने साफ कर दिया है कि निर्देश की अवहेलना करने वालों के खिलाफ धारा 188 के तहत कानूनी कार्रवाई की जायेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

अब 12 अप्रैल को होगा नया ड्रामा, 5 मिनट खड़े हो कर पीएम को सम्मान दिये जाने की तैयारी

पैगाम ब्यूरोः कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ रहे चिकित्सा कर्मियों को सम्मान देने के लिए 22 मार्च को ताली...

तबलीगी जमात के लोग दूसरों के साथ नहीं कर सकते बदसलूकीः देखें वीडियो

पैगाम ब्यूरोः मीडिया का एक वर्ग और भगवा संगठन तबलीगी जमात को शैतान की जमात के रुप में पेश कर रहे हैं. इस काम...

किसानों की जीविका खतरे में, फसलों की कटाई के लिए लॉकडाउन में ढील दे सरकारः राहुल गांधी

पैगाम ब्यूरोः कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने फसलों की कटाई को लिए लॉकडाउन में ढील देने की मांग की है. वायनाड के...

49 दिनों तक चल सकता है लॉकडाउनः मुख्यमंत्री ने किया इशारा

पैगाम ब्यूरोः देश में चल रहे लॉकडाउन की मियाद 14 अप्रैल को पूरी हो रही है, लेकिन शायद इस दिन लॉकडाउन खत्म नहीं होगा....

कोरोना के नाम पर सांप्रदायिक ध्रुवीकरण को दिया जा रहा है बढ़ावाः सीताराम येचुरी

पैगाम ब्यूरोः सीपीआईएम (माकपा) के महासचिव सीतारम येचुरी ने आरोप लगाया है कि कोरोना वायरस के नाम पर देश में सांप्रदायिक ध्रुवीकरण को बढ़ाया...

More Articles Like This