कोरोना की आड़ में सीएए प्रदर्शनकारियों को ठिकाने लगा रहे हैं अमित शाह

Must Read

देश के सबसे अक्षम और जालिम मुख्यमंत्री हैं योगी

पैगाम ब्यूरोः प्रवासी मजदूरों के मामले में उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के बयान से देश भर में...

सोनू सूदः एक विलेन जो सिर्फ हीरो पर नहीं, सरकार पर भी पड़ गया भारी

पैगाम ब्यूरोः भारतीय सिनेमा का जब भी इतिहास लिखा जायेगा, उसमें अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान, अक्षय कुमार, अजय देवगन...

अखिलेश यादव का कटाक्षः अगर काढ़ा और च्यवनप्राश से ठीक होता है कोरोना तो मुफ्त बांटे सरकार

पैगाम ब्यूरोः लाख कोशिशों के बावजूद कोरोना वायरस का आतंक बढ़ता ही जा रहा है. नये मामले सामने आने...

पैगाम ब्यूरोः पूरा देश कोरोना के खिलाफ युद्ध में लगा है. देश भर की पुलिस लॉकडाउन को सख्ती से लागू करवाने में लगी हुई है, लेकिन दिल्ली पुलिस कुछ और मिशन में लगी हुई है. लॉकडाउन के बीच दिल्ली पुलिस के जरिये केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ आवाज बुलंद करने वालों को चुन-चुन कर ठिकाने लगा रहे हैं.

जब लोग कोरोना के डर से घरों में दुबके पड़े हैं. दिल्ली पुलिस अमित शाह के निर्देश पर सीएए प्रदर्शनारियों के खिलाफ एफआईआर दाखिल करने में व्यस्त है. उन पर दिल्ली में दंगे भड़काने का आरोप लगा कर UAPA लगाया जा रहा है. धड़ाधड़ गिरफ्तारियां हो रही हैं. पूरी दुनिया और मीडिया कोरोना में व्यस्त है. किसी का भी ध्यान दिल्ली पुलिस की कार्रवाई की तरफ नहीं जा रहा है या फिर जानबुझ कर ध्यान नहीं दिया जा रहा है.

जिन लोगों ने सीएए प्रदर्शनकारियों पर खुलेआम गोली चलायी. उनमें से किसी के भी खिलाफ यूएपीए नहीं लगाया गया. खुलेआम लोगों को दंगे के लिए भड़काने वाले कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर, प्रवेश वर्मा के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो रही है. दंगे करने के लिए जो यूपी से ट्रैक्टर-ट्रॉलियों में भर-भरकर गुंडे दिल्ली लाये, उनपर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है.

कार्रवाई सिर्फ सीएए प्रदर्शनकारियों के खिलाफ हो रही है. उनपर नये-नये मुकदमे दर्ज हो रहे हैं, उन्हें गिरफ्तार किया जा रहा है. सबकुछ बेहद चुपचाप तरीके से किया जा रहा है. बड़ी खामोशी से सीएए के खिलाफ प्रदर्शन करने वालों को निपटाया जा रहा है.

उमर खालिद, खालिद सैफी, जामिया के छात्र मीरान हैदर, सफूरा जरगर जैसों को दंगों का मास्टरमाइंट के तौर पर पेश किया जा रहा है. इन सबके खिलाफ UAPA लगाया गया है. गर्भवती सफूरा जरगर को गिरफ्तार कर तिहाड़ जेल में डाल दिया गया है. खालिद सैफी भी जेल में डाल दिये गये हैं. जामिया मिल्‍लिया इस्‍लामिया के पूर्व छात्र संघ अध्‍यक्ष शिफा-उर-रहमान को भी दिल्‍ली दंगे के लिए जिम्मेदार बता कर यूएपीए के तहत गिरफ्तार किया जा चुका है.

अमित शाह और दिल्ली पुलिस की इस खेल का दायरा सिर्फ जामिया के छात्रों तक ही सीमित नहीं है, बल्कि जामिया एक्शन कमेटी, पिंजरा तोड़, AISA जैसे छात्र संगठन के पदाधिकारियों और सदस्यों पर भी शिकंजा कसा जा रहा है. ज्यादातर के खिलाफ गैर कानूनी गतिविधि (निरोधक) अधिनियम (यूएपीए) के तहत मामला दर्ज किया गया है.

मकसद साफ है. कोरोना वायरस के आड़ में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन करने वालों से बदला लिया जा रहा है. अमित शाह को मालूम है कि आज न कल कोरोना संकट खत्म होगा. उसके बाद सीएए के खिलाफ फिर से आंदोलन शुरू होगा. इसलिए वो अभी से कोरोना की आड़ में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन का नेतृत्व करने वालों की धर-पकड़ कर रहे हैं, ताकि कोरोना का संकट खत्म होने के बाद दोबारा सीएए के खिलाफ आंदोलन न हो.

7 COMMENTS

  1. Gujarat model par kaam kar raha hai tadipaar or feku,godhra kaand me bhi aisa hi kiya tha,train ki bogi me aag inside se hi lagaaee gaee thi lekin muslims ko gunahgaar bata kar jail me dala gaya tha,police ki madad se saamuhik hathya kaand kiye gaye the,Allah feku,tadipaar or is jaise sabhi ko aisi bimaari de ki duniya me uska ilaaj na ho or dusro ko isse sabak mile,aameen

  2. Corona situation me Modi hai to aap surkchit hai. Yeh sabit ho Gaya ki is situation me Kam se Kam 90% deswashi ko Modi ji par vishwash hai aur we unke baat ko follow karte hai. Kuch log hai Jo unse ghirna karte hai aur unka ye feeling bahar as jata hai.
    Abhi ke situation me government se jude rahiye aur ghar me rahkar Desh ki sewa kijiye. Rajniti phir Kabhi.

    • main aapki neeche kahi baat ka samarthan karta hoon. aapne bilkul sahi kaha. lekin Modi ji hain to desh surakshit hai, ye nahin maan sakta. sir corona modi ji ki hi den hai. MP me bjp sarkar banane ke intezar men lockdown der se kiya gaya, trump ke saath ek bhi aadmi ki screening nahi ki gayi, jiske wajah se corona desh bhar me faila. Modi ji kaam ke naam par nautanki kar rahe hain, asal kaam to rajy ki sarkaren kar rahi hain. jai hind.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

देश के सबसे अक्षम और जालिम मुख्यमंत्री हैं योगी

पैगाम ब्यूरोः प्रवासी मजदूरों के मामले में उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के बयान से देश भर में...

सोनू सूदः एक विलेन जो सिर्फ हीरो पर नहीं, सरकार पर भी पड़ गया भारी

पैगाम ब्यूरोः भारतीय सिनेमा का जब भी इतिहास लिखा जायेगा, उसमें अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान, अक्षय कुमार, अजय देवगन वगैरा का नाम जरूर होगा....

अखिलेश यादव का कटाक्षः अगर काढ़ा और च्यवनप्राश से ठीक होता है कोरोना तो मुफ्त बांटे सरकार

पैगाम ब्यूरोः लाख कोशिशों के बावजूद कोरोना वायरस का आतंक बढ़ता ही जा रहा है. नये मामले सामने आने और मौत के आंकड़ों का...

अब बीजेपी नेता बग्गा पर कसा शिकंजाः राजीव गांधी पर अपमानजनक टिप्पणी करने के लिए एफआईआर दर्ज

पैगाम ब्यूरोः बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा के बाद अब बीजेपी के एक और बड़बोले नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा की परेशानी बढ़ती नजर आ...

लॉकडाउन के बीच फिर सड़क पर राहुल, प्रवासी मजदूरों के बाद टैक्सी ड्राइवर से जाना हाल

पैगाम ब्यूरोः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके मंत्री एयरकंडीशन दफ्तरों में बैठ कर कोरोना संकट दूर करने और प्रवासी मजदूरों की समस्याओं को सुलझाने...

More Articles Like This