सुप्रीम कोर्ट से अर्णब गोस्वामी को करारा झटका, याचिका खारिज

Must Read

देश के सबसे अक्षम और जालिम मुख्यमंत्री हैं योगी

पैगाम ब्यूरोः प्रवासी मजदूरों के मामले में उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के बयान से देश भर में...

सोनू सूदः एक विलेन जो सिर्फ हीरो पर नहीं, सरकार पर भी पड़ गया भारी

पैगाम ब्यूरोः भारतीय सिनेमा का जब भी इतिहास लिखा जायेगा, उसमें अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान, अक्षय कुमार, अजय देवगन...

अखिलेश यादव का कटाक्षः अगर काढ़ा और च्यवनप्राश से ठीक होता है कोरोना तो मुफ्त बांटे सरकार

पैगाम ब्यूरोः लाख कोशिशों के बावजूद कोरोना वायरस का आतंक बढ़ता ही जा रहा है. नये मामले सामने आने...

पैगाम ब्यूरोः गोदी मीडिया के सरताज रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक अर्णब गोस्वामी को सुप्रीम कोर्ट ने करारा झटका दिया है. देश की सर्वोच्च न्यायलय ने महाराष्ट्र के पालघर मामले में रिपब्लिक टीवी द्वारा दिखाये गये एक कार्यकम के बाद उनके खिलाफ दर्ज करायी गयी पहली FIR को रद्द करने से इनकार कर दिया है.

सिर्फ यही नहीं सुप्रीम कोर्ट की जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस एमआर शाह की बेंच ने अर्णब गोस्वामी की परेशानी को बढ़ाते हुए उनके द्वारा मामले की जांच सीबीआई (CBI) को ट्रांस्फर करने की याचिका को भी खारिज कर दिया है.

हालांकि अदालत ने जहां एक तरफ अर्णब गोस्वमी को FIR रद्द नहीं किये जाने और मामले की जांच सीबीआई को ट्रांसफर नहीं किये जाने का झटका दिया है, वहीं उन्हें राहत भी मिली है.

सुप्रीम कोर्ट ने अर्णब की गिरफ्तारी से बचने के लिए दी गयी अंतरिम राहत को तीन हफ्ते के लिए बढ़ा दिया है. अदालत ने मुंबई पुलिस कमिश्नर को अर्णब गोस्वामी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिये हैं.

बता दें कि महाराष्ट्र के पालघर में दो साधुओं और उनके ड्राइवर की सैकड़ों लोगों की भीड़ ने पीट-पीट कर हत्या कर दी थी. इस घटना पर अर्नब गोस्वामी ने अपने टीवी चैनल रिपब्लिक टीवी पर एक शो होस्ट किया था.

जहां उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर बेहद आपत्तिजनक और अभद्र टिप्पणी की थी. इस कार्यक्रम के जरिये उन्होंने सांप्रदायिक सौहार्द को खराब करने और नफरत फैला कर दंगा भड़काने की पूरी कोशिश की थी. जिसके बाद देश के विभिन्न राज्यों के थानों में उनके खिलाफ सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने का मामला दर्ज किया गया था. मुंबई में भी उनके खिलाफ FIR दर्ज की गयी थी. जिस पर कार्रवाई करते हुए मुंबई पुलिस ने उनसे लगभग 12 घंटे तक पूछताछ की थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

देश के सबसे अक्षम और जालिम मुख्यमंत्री हैं योगी

पैगाम ब्यूरोः प्रवासी मजदूरों के मामले में उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के बयान से देश भर में...

सोनू सूदः एक विलेन जो सिर्फ हीरो पर नहीं, सरकार पर भी पड़ गया भारी

पैगाम ब्यूरोः भारतीय सिनेमा का जब भी इतिहास लिखा जायेगा, उसमें अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान, अक्षय कुमार, अजय देवगन वगैरा का नाम जरूर होगा....

अखिलेश यादव का कटाक्षः अगर काढ़ा और च्यवनप्राश से ठीक होता है कोरोना तो मुफ्त बांटे सरकार

पैगाम ब्यूरोः लाख कोशिशों के बावजूद कोरोना वायरस का आतंक बढ़ता ही जा रहा है. नये मामले सामने आने और मौत के आंकड़ों का...

अब बीजेपी नेता बग्गा पर कसा शिकंजाः राजीव गांधी पर अपमानजनक टिप्पणी करने के लिए एफआईआर दर्ज

पैगाम ब्यूरोः बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा के बाद अब बीजेपी के एक और बड़बोले नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा की परेशानी बढ़ती नजर आ...

लॉकडाउन के बीच फिर सड़क पर राहुल, प्रवासी मजदूरों के बाद टैक्सी ड्राइवर से जाना हाल

पैगाम ब्यूरोः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके मंत्री एयरकंडीशन दफ्तरों में बैठ कर कोरोना संकट दूर करने और प्रवासी मजदूरों की समस्याओं को सुलझाने...

More Articles Like This