logo

Politics

Blog

सोनिया गांधी लेनी वाली हैं कड़े फैसले

पैगाम ब्यूरोः कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी संगठन को मजबूत बनाने और पार्टी में अनुशासन बनाये रखने के लिए कड़े फैसले लेने जा रही हैं. लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार और राहुल गांधी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद पार्टी में संकट गहरा गया है. जिसका फायदा उठा कर कुछ कांग्रेस नेता लगातार पार्टी अनुशासन के खिलाफ काम कर रहे हैं. इन हालात को देखते हुए कांग्रेस के चंद नेताओं ने सोनिया गांधी को फौरन कार्रवाई करने की सलाह दी है. उनका मानना है कि पार्टी में हालात बेहद खराब हैं. जिससे निपटने के लिए फौरन कड़े फैसले लेने होंगे.

पार्टी की वर्तमान स्थिति पर चिंता जताने वाले इन नेताओं में से ज्यादा युवा हैं. उनका कहना है कि पार्टी बगैर किसी दिशा के चल रही है. इस स्थिति में उनके लिए काम करना मुश्किल है. इन नेताओं की इस राय को देखते हुए पार्टी नेतृत्व हरकत में आ गया है. सूत्रों के मुताबिक सोनिया गांधी 12 सितंबर को पार्टी नेताओं के साथ बैठक करेंगी, जहां वो कई अहम फैसले ले सकती हैं.

इस साल के अंत में महाराष्ट्र, झारखंड और हरियाणा में विधानसभा चुनाव होने के लिए है. जिसके लिए तारीख का एलान चंद दिनों में ही होने वाला है. ऐसे में अगर पार्टी में गुटबाजी इसी तरह चलती रही तो इन राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को इसका खमियाजा भुगतना पड़ सकता है.

राजस्थान और मध्य प्रदेश में गुटबाजी चरम पर है. हरियाणा में कुमारी सैलजा को पार्टी अध्यक्ष बनाये जाने के बावजूद वहां नाराजगी कम नहीं हुई है. बिहार में भी पार्टी दो खेमे में बंटी हुई है. लोकसभा चुनाव में हार का असर झारखंड कांग्रेस संगठन पर भी पड़ा है. इस समस्या से निपटने के लिए सोनिया गांधी कड़े फैसले लेने का मन बना चुकी हैं. सूत्रों के मुताबिक सोनिया गांधी का मानना है कि कांग्रेस संगठन को मजबूत बनाने के लिए यही सबसे बेहतर मौका है. जो नेता और कार्यकर्ता अच्छा काम करेंगे. उन्हें इसका इनाम मिलेगा. सिर्फ नाम के बल पर संगठन पर कब्जा जमाये बैठे नेताओं को अब कुछ करना होगा. 


* आप सभी से आवेदन है कि प्लीज पैगाम के पेज को लाइक करें और अपने साथियों को भी लाइक करने के लिए कहें. मेहरबानी होगी. खबरों को पढ़ कर शेयर करें, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों तक खबर पहुंच सके. https://www.facebook.com/paighamtelevision/

(धन्यवाद)