logo

Sports

Blog

भारतीय वाटर पोलो टीम का हिस्सा बना विशाल

पैगाम ब्यूरोः सिंगापुर में फिना वाटरपोलो चैलेंजर ट्राफी होने जा रही है. जिसके लिए भारतीय टीम का सलेक्शन हो गया है. भारतीय सिनियर टीम में कोलकाता के विशाल यादव को  शामिल किया गया हैं. विशाल के टीम इंडिया में सलेक्शन से न सिर्फ वह, बल्कि उनका पूरा परिवार बेहद खुश व रोमांचित है.

भारतीय वाटर पोलो टीम आज सिंगापुर के लिए रवाना हो गयी. टीम के प्रतिभावान सदस्य विशाल यादव का जन्म 20 जनवरी 1999 में एक मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ था.  6  वर्ष की उम्र से ही विशाल की तैराकी के प्रति रुची थी. उसकी इसी चाहत व पसंद ने आज उसे एक प्रतिभाशाली वाटर पोलो खिलाडी़ बना दिया है. अपनी कामयाबी से विशाल ने यह साबीत कर दिया की क्षेत्र जो भी हो, बस इंसान में आगे बढ़ने का जज्बा होना चाहीए. अपने बेहत्तर खले की बौदलत आज वो भारतीय सिनियर वाटरपोलो टीम का हिस्सा बन चुका है.

बता दें कि सिंगापुर में 6 अक्टूबर से 13 अक्टूबर तक फिना वाटरपोलो चैलेंजर ट्राफी का मुकाबला होगा. भारतीय वाटरपोलो फेडरेशन ऑफ इंडिया ने जब भारतीय टीम में चयन की जनकारी विशाल यादव को दी तो उसके परिवार के साथ- साथ पुरे इलाके में खुशी की लहर दौड़ पड़ी थी. इस सुनहरे मौके को हासिल कर बेहद खुश नजर आ रहे विशाल यादव ने कहा कि ये मेरे लिए सौभाग्य व गर्व की बीत है की मै भारतीय वाटरपोलो टीम का हिस्सा बना हूं. विशाल ने कहा कि मेरी इच्छा है कि भारतीय वाटर पोलो टीम ओंलंपिक में खेले और मै उस टीम का हिस्सा बनुं. 

 भारतीय वाटर पोलो टीम में अपने बेटे के चयन से विशाल के माता पिता खुशी से भावुक हो गये हैं. विशाल के पिता हरेंद्र यादव ने कहा कि हर खिलाड़ी के मां-बाप का सपना होता है कि उनका बेटा देश के लिए खेले और आगे बढ़े. विशाल ने हमारा यह सपना पूरा कर दिया. इसके लिए हम उस पर जितना भी गर्व करें, वह कम है. उन्होने कहा कि विशाल और भी आगे बढ़े मेरी यही इश्वर से प्रार्थना है.


* आप सभी से आवेदन है कि प्लीज पैगाम के पेज को लाइक करें और अपने साथियों को भी लाइक करने के लिए कहें. मेहरबानी होगी. खबरों को पढ़ कर शेयर करें, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों तक खबर पहुंच सके. https://www.facebook.com/paighamtelevision/(धन्यवाद)