पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमत पर बोली सोनिया गांधीः जबरन वसूली कर मुनाफाखोरी कर रही है सरकार

0
217

पैगाम ब्यूरोः कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने लगातार बढ़ रहे पेट्रोल और डीजल के दाम के मुद्दे पर एक बार फिर सरकार पर हमला बोला है. सोनिया गांधी ने सरकार से पेट्रोल-डीजल के बढ़े हुए दाम वापस लेने की मांग की है. उन्होंने सरकार पर मुनाफाखोरी करने का आरोप लगाया है.

सोमवार को एक वीडियो जारी कर कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि सरकार की जिम्मेदारी ये है कि वो मुश्किल समय में देशवासियों का सहारा बने न कि उनकी मुसीबत का फायदा उठाकर मुनाफाखोरी करे. सोनिया गांधी ने कहा कि पिछले 3 महीनों में मोदी सरकार ने 22 बार लगातार पेट्रोल-डीजल की कीमत बढ़ाई है. 2014 के बाद मोदी सरकार ने जनता को कच्चे तेल की गिरती कीमतों का फायदा देने की जगह पेट्रोल-डीजल पर 12 बार एक्साइज़ ड्यूटी बढ़ाकर 18 लाख करोड़ रुपये की अतिरिक्त वसूली की है. यह अपने आप में जनता की मेहनत की कमाई से जबरन वसूली कर सरकारी खजाना भरने का जीता-जागता उदाहरण है.

सोनिया गांधी ने कहा कि एक तरफ जब देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है, तो पेट्रोल-डीजल पर महंगाई की मार ने बुरी हालत कर दी है. दिल्ली सहित बड़े शहरों में तो पेट्रोल-डीजल की कीमत 80 रुपये प्रति लीटर से ज्यादा हो गई है. इसकी सीधी चोट किसान, नौकरीपेशा लोगों, देश के मध्यमवर्ग और छोटे-छोटे उद्यमियों पर पड़ रही हैं. मैं सरकार से मांग करती हूं कि पेट्रोल-डीजल की बढ़ाई गई कीमत को वापस लिया जाये. और मार्च से जितनी एक्साइज़ ड्यूटी बढ़ाई गई है, उसे भी वापस लिया जाये.

बता दें कि सोनिया गांधी पहले भी सरकार से पेट्रोल-डीजल के बढ़े हुए दाम वापस लेने की मांग कर चुकी हैं. उन्होंने 16 जून को प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाने के फैसले को गलत ठहराया था. और बढ़े हुए दाम वापस लेने की मांग की थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here