पूछ रहा है भारतः paytm पर कब लगेगा बैन

0
107

पैगाम ब्यूरोः सरकार ने चीन के 59 मोबाइल एप पर पाबंदी लगा दी है. जिसमें टीकटॉक, यूसी ब्राउजर, शेयरइट जैसे बेहद लोकप्रिय एप भी शामिल हैं. सरकार का दावा है कि ये देश की सुरक्षा का मामला है. इससे जासूसी रुकेगी.
सरकार के इस फैसले का सभी समर्थन कर रहे हैं, लेकिन लोगों का कहना है कि सिर्फ मोबाइल एप पर बैन लगाने से चीन को कोई खास नुक्सान नहीं पहुचंगे. अगर चीन की कमर तोड़नी है तो उसे paytm, जोमैटो, बिग बास्केट जैसी कंपनियों पर भी बैन लगाना होगा, जिसमें चीनी कंपनियों ने अरबों रुपये का निवेश कर रखा है.

सोशल मीडिया पर paytm को बैन करने की मांग तेजी से उठ रही है. लोगों का कहना है कि paytm, जोमैटो और बिग बास्केट में चीन की सबसे बड़ी कंपनी अलीबाबा का पैसा लगा हुआ है. अलीबाबा कंपनी का मालिक एशिया का सबसे धनी व्यक्ति जैकमा है. जो यूसी ब्राउजर का भी मालिक है. जब सरकार ने यूसी ब्राउजर को बैन कर दिया है तो फिर paytm, जोमैटो और बिग बास्केट पर पाबंदी क्यों नहीं लगा रही है?

ट्वीटर पर इंदू नामक एक यूजर लिखती है,  “प्रिय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. चूंकि आपने भारत में 59 चीनी ऐप्स को प्रतिबंधित करने का फैसला किया है. हम आपके ध्यान में कुछ और ऐप लाना चाहते हैं जो आप भारत में प्रतिबंधित करना चाहते हैं. कृपया पेटीएम के साथ शुरू करने के लिए स्वतंत्र महसूस करें.
एक आम भारतीय
जय हिन्द.”

बता दें कि भारत की कई बड़ी और लोकप्रिय कंपनियों में चीन की बड़ी हिस्सेदारी है. इनमें बिग बास्केट, बायजू, ड्रीम 11, फ्लिपकार्ट, हाइक, मेकमायट्रिप, ओला, ओयो, पेटीएम, पेटीएम मॉल, पॉलिसी बाजार, स्नैपडील, स्विगी, जोमैटो आदि प्रमुख कंपनियां शामिल हैं. डेटा और एनालिटिक्स फर्म GlobalData के आंकड़ों के मुताबिक, चार साल में भारतीय स्टार्टअप कंपनियों में चीन के निवेश में 12 गुना की वृद्धि हुई है. 2016 में इन स्टार्टअप कंपनियों में चीन की कंपनियों का निवेश 381 मिलियन अमोरिकी डॉलर (लगभग 2,800 करोड़ रुपये) था जो 2019 में बढ़कर 4.6 बिलियन डॉलर (लगभग 32 हजार करोड़ रुपये) हो गया. बता दें कि Paytm अक्सर प्रधानमंत्री की तस्वीरों वाले बड़े-बड़े विज्ञापन अखबारों में छपवाती है. नोटबंदी होने के बाद सबसे पहले Paytm ने ही अखबारों में विज्ञापन देकर प्रधानमंत्री को इस कदम के लिए बधाई दी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here