बेंगलुरु फसादः पुलिस फायरिंग में अब तक 3 लोगों की मौत

0
195

पैगाम ब्यूरोः कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में मंगलवार की रात एक फेसबुक पोस्ट को लेकर भड़की हिंसा में अब तक तीन लोगों की मौत हो चुकी है. तीनों की ही मौत पुलिस फायरिंग में हुई है.

बेंगलुरु पुलिस कमिश्नर कमल पंत ने बताया कि पूर्वी बेंगलुरु के डीजे हल्ली इलाके में पुलिस फायरिंग में तीन लोगों की मौत हो गई है, वहीं 60 पुलिसकर्मी घायल हैं. डीजे हल्ली और केजी हल्ली थाना क्षेत्रों में गुरुवार की सुबह तक कर्फ्यू लगा दिया गया है. वहीं पूरे बेंगलुरु में धारा 144 लागू है. कमिश्नर ने कहा कि फिलहाल हालात काबू में हैं. पुलिस ने इस मामले में कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के आरोपी भतीजे नवीन को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं इसके अलावा 110 दूसरे लोगों को भी गिरफ्तार किया गया है.

बता दें कि कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के भतीजे नवीन ने फेसबुक पर पैगंबर हजरत मोहम्मद के खिलाफ आपत्तिजनक पोस्ट किया था. जिससे बेंगलुरु के मुसलमान भड़क उठे. उन्होंने कांग्रेस विधायक के घर पर तोड़फोड़ की. इस दौरान आगजनी, पत्थरबाजी और पुलिस से भिड़ंत हुई.

पैगंबर हजरत मोहम्मद के खिलाफ विवादित पोस्ट करने वाले के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे मुसलमान फौरन आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे. इस पर पुलिस ने कहा कि ऐसा नहीं हो सकता है. इससे लोग भड़क उठे और पत्थरबाजी करने लगे. गाड़ियों में आग लगा दी गई. पुलिस स्टेशन में रखी लगभग 200 बाइक को आग के हवाले कर दिया गया. इसके बाद भीड़ ने यह सोचकर थाने को निशाना बनाया कि पुलिस ने आरोपी को वहां छिपा रखा है.

लोगों के गुस्से का शिकार बने कांग्रेस विधायक ने लोगों से हिंसा नहीं करने की अपील की. उन्होंने वीडियो संदेश में कहा कि मैं लोगों से अपील करता हूं कि कुछ उपद्रवियों की गलतियों के चलते हमें हिंसा में शामिल नहीं होना चाहिये. लड़ने-झगड़ने की कोई जरूरत नहीं है. हम सभी भाई हैं. हम कानून के अनुसार दोषियों को सजा दिलायेंगे. हम भी आपके साथ हैं. मैं अपने दोस्तों से शांति बनाये रखने की अपील करता हूं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here