यूपी सरकार की गुंडागर्दीः परिवार को नहीं दी गैंगरेप पीड़िता की लाश, खुद ही कर दिया अंतिम संस्कार

0
68

पैगाम ब्यूरोः उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले के चंदपा थाना क्षेत्र के बुलगाड़ी में गैंगरेप (Gangrape) की शिकार पीड़िता की मौत के बाद यूपी सरकार का और भी शर्मनाक चेहरा सामने आया है. दिल्ली से लाश लाने के बाद पुलिस प्रशासन ने उसे परिवार को नहीं सौंपा और रात में ही बिना रीति रिवाज के पीड़िता का अंतिम संस्कार कर दिया. पुलिस और प्रशासन के इस रवैये से परिजनों व ग्रामीणों में भारी गुस्सा है.

इससे पहले जब दिल्ली से गैंगरेप पीड़िता की लाश गांव लाई गई तो उसे घर वालों को नहीं सौंपा गया. जिससे नाराज रिश्तेदार एम्बुलेंस के सामने लेट गये. इस दौरान मौके पर मौजूद एसडीएम ने परिजनों के साथ बदसलूकी की. मीडिया को भी रोका गया और धक्कामुक्की की गई. इसके बाद पुलिस और गांव वालों में झड़प हो गई.

दरअसल, पीड़िता के परिजन रात में अंतिम संस्कार नहीं करना चाहते थे, जबकि पुलिस तुरंत अंतिम संस्कार कराना चाहती थी. इसके बाद आधी रात लगभग 2:40 बजे बिना किसी रीति रिवाज के और परिजनों की गैरमौजूदगी में पीड़िता का अंतिम संस्कार कर दिया गया.

मृतका के चाचा ने कहा कि पुलिस रात में ही अंतिम संस्कार करने के लिए दबाव बना रही थी. जबकि बेटी के मां-बाप और भाई कोई भी यहां मौजूद नहीं है, वे लोग दिल्ली में ही हैं और अभी पहुंचे भी नहीं हैं. रात में अंतिम संस्कार न करने और परिवार का इंतजार करने की बात कहने पर पुलिस ने कहा कि अगर नहीं करोगे तो हम खुद कर देंगे.

दूसरी तरफ यूपी पुलिस के आईजी पीयूष मोडिया ने दावा किया है कि मेडिकल जांच में रेप की पुष्टि नहीं हुई है. यूपी पुलिस ये भी कह रही है कि पीड़िता की न जीभ काटी गई थी और न ही रीढ़ की हड्डी टूटी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here