अशोक गहलोत का आरोपः बीजेपी ने देश को बांटने के लिए गढ़ा है लव जिहाद का शब्द

0
167

पैगाम ब्यूरोः राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लव जिहाद को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा है. उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी ने देश को बांटने के लिए लव जिहाद नामक शब्द गढ़ा है. उन्होंने दावा किया कि लव (प्यार) में जिहाद की कोई जगह नहीं है.

अशोक गहलोत ने लव जिहाद के मुद्दे पर शुक्रवार को ट्वीट कर कहा कि, “लव जिहाद शब्द BJP ने देश को बांटने और सांप्रदायिक सद्भाव को बिगाड़ने के लिए गढ़ा है. शादी विवाह व्यक्तिगत आजादी का मामला है जिस पर लगाम लगाने के लिए कानून बनाना पूरी तरह से असंवैधानिक है और यह किसी भी अदालत में टिक नहीं पाएगा. लव में जिहाद की कोई जगह नहीं है.”

राजस्थान के मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि,  “वे (बीजेपी) देश में ऐसा माहौल बना रहे हैं, जहां व्यस्कों की आपसी सहमति राज्य सरकार की दया पर निर्भर होगी. शादी विवाह व्यक्तिगत निर्णय होता है और वे इस पर लगाम लगा रहे हैं जो व्यक्तिगत आजादी छीनने जैसा ही है.”

गहलोत ने कहा कि, “यह सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने, सामाजिक तनाव को बढ़ावा देने और संवैधानिक प्रावधानों का उल्लंघन करने की चाल जैसी प्रतीत होती है. राज्य किसी भी आधार पर नागरिकों के साथ भेदभाव नहीं करता है.”

बता दें कि जब देश कोरोना महामारी और अर्थव्यवस्था की बदहाली जैसे संकट में घिरा हुआ है, तब बीजेपी लव जिहाद का मुद्दा उठा कर गोदी मीडिया की मदद से लोगों का ध्यान भटकाने की अपनी पुरानी कोशिश में लगी हुई है. बीजेपी शासित राज्यों में कोरोना तो संभल नहीं रहा है, लेकिन वहां के मुख्यमंत्री कोरोना महामारी पर ध्यान देने के बजाय लव जिहाद पर कानून बनाने में लगे हुए हैं. बीजेपी शासित उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और हरियाणा में लव जिहाद के खिलाफ कानून बनाने की होड़ लगी हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here