वरिष्ठ कांग्रेस नेता और असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई का निधन

0
135

पैगाम ब्यूरोः कांग्रेस के सीनियर नेता और असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई का सोमवार शाम निधन हो गया है. वह 86 साल के थे.

असम के तीन बार के मुख्यमंत्री तरुण गोगोई पिछले तीन दिनों से गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज में वेंटिलेटर पर थे. रविवार को उनके स्वास्थ्य में सुधार के कुछ संकेत दिखाई दिए थे, लेकिन सोमवार सुबह उनकी हालत फिर से बिगड़ गई, जिसके बाद उन्हें बचाया नहीं जा सका. तरुण गोगोई अक्टूबर में कोरोना संक्रमित हो गये थे, लेकिन इलाज के बाद वह पूरी तरह ठीक हो गये थे. पर बीमारी के बाद की जटिलताओं ने उन्हें घेर लिया.

तीन बार असम के मुख्यमंत्री रहे गोगोई को कोरोना वायरस से स्वस्थ होने के बाद 25 अक्टूबर को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी. गोगोई 25 अगस्त को कोविड-19 से संक्रमित पाये गये थे और अगले दिन उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वह दो महीने तक अस्पताल में रहे थे.

दिवंगत नेता के बेटे और लोकसभा सांसद गौरव गोगोई ने रविवार को बताया था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस नेता राहुल गांधी समेत कई बड़े नेताओं ने उनके पिता का हालचाल जाना.

पार्टी के बेहद वरिष्ठ और कर्मठ नेता तरुण गोगोई की मौत पर कांग्रेस में दुख की लहर दौड़ पड़ी है. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनकी मौत पर गहरा दुख व्यक्त किया है.

राहुल गांधी ने कहा कि तरुण गोगोई एक सच्चे कांग्रेसी नेता थे. उन्होंने अपना जीवन असम के सभी लोगों और समुदायों को एक साथ लाने के लिए समर्पित कर दिया. मेरे लिए, वह एक महान और बुद्धिमान शिक्षक थे. मैं उन्हें बहुत प्यार करता था और उनका सम्मान करता था. मुझे उनकी कमी बेहद खलेगी. गौरव और परिवार के प्रति मेरा प्यार और संवेदना.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here